Shudhbodh The way of Awareness

Uncategorized

Destructive Thought, conservative thought, student life ,religion ,i am the best, superior, teach, casteism, discrimination, be the best

Vinaashkari vichar

मनुष्य के विचार हमेशा उसी तरफ चलते है जिस प्रकार का वातावरण वह अपने चारो ओर देखता है जिस प्रकार से उसकी परवरिश हुई है। जो भी संस्कार उसने अपने माता पिता से ग्रहण किये है। या अपने प्रिय जनों से सीखे है। मनुष्य के विचार उसी दिशा में अग्रसर होते है। एक रुग्ण विचार …

Vinaashkari vichar Read More »

Scroll to Top